गिरिडीहः बराकर नदी में हर दिन सैड़कों ट्रैक्टर के मध्यम से होता है बालू का उठाव

पुलिसवाले रिश्वत लेकर अवैध बालू तस्करी को दे रहे हैं बढ़ावा
पुलिसवाले रिश्वत लेकर अवैध बालू तस्करी को दे रहे हैं बढ़ावा- आरोप

रिंकु कुमार

गिरिडीह । गिरिडीह जिले की पुलिस और प्रशासन के नाक के नीचे पीरटांड़ और मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के बराकर नदी से हर रोज बड़े पैमाने पर बालू की तस्करी हो रही है। दिन का उजाला हो या रात का अंधेरा, बालू तस्करों ने बराकर नदी को खोखला कर दिया है। ये धंधा बिल्कुल अवैध है, लेकिन रिश्वतखोर पुलिस वालों की वजह से अवैध धंधा बेरोकटोक जारी है।

यहां हर चौर-चौराहे पर निलाम होता है पुलिसवालों का ईमान

प्रशासन अभी कोमा में नहीं है, ये दिखाने के लिए कभी-कभी एक-दो ट्रैक्टरों को पकड़ लिया जाता है, लेकिन पता नहीं क्यों, उन्हे छोड़ भी उसी रफ्तार से देते हैं पुलिसवाले । स्थानीय लोग हंसते हुए बताते हैं कि पुलिसवालों का इमान यहां हर चौक-चौराहों पर टके के भाव से निलाम होता है। दिन-रात सैंकड़ों की संख्या में बालू लदे ट्रैक्टर सड़कों पर दौड़ते हैं । जिले के बच्चे को भी पता है कि खाकी को मैनेज कर हर तरह का अवैध धंधा बिना डर-भय के चलाया जा सकता है। नदी में प्रत्येक दिन ट्रेक्टर के माध्यम से बालू को आस पास जिलों में भेजा जा रहा है।

पुलिसवालों के अलावा सबको पता है कि कौन तस्करी करता है ?

पीरटांड़ के विभिन्न घाटों से प्रतिदिन सैकड़ों ट्रैक्टर अवैध ढंग से बालू का उठाव कर रहे हैं। सुबह से लेकर शाम तक बालू तस्करों द्वारा बराकर नदी के विभिन्न जगह से अवैध तरीके से बालू का उठाव जारी है। ट्रैक्टर चालक ओवरलोड बालू को लेकर चलाते है। उनकी तेज रफ्तार से बच्चे- बूढ़ों को तो छोड़िए, जवान भी कांप जाते हैं। एक दिन पूर्व ही पीरटांड़ के बिशुनपुर पंचायत में बालू लदे ट्रैक्टर वाहन से एक मजदूर आदिवासी युवक की मौत घटना स्थल पर ही हो गई थी। जिसके बाद बालू लदे ट्रैक्टर को जब्त कर लिया गया। इस प्रकार की पहले भी कई घटनाएं घट चुकी हैं।

खनन पदाधिकारी से सेटिंग की अफवाह

स्थानीय लोग कहते हैं कि जिले का खनन विभाग अब चोरी नहीं करता बल्कि डकैती पर उतर आया है। अवैध बालू के कलेक्शन में सबका हिस्सा बंटा हुआ है। तस्करों और बेईमानों की सेटिंग ऊपर तक है। ऐसे में आम आदमी उन्हें रोकने की हिम्मत तक नहीं कर सकता।

क्या कहते हैं खनन पदाधिकारी

खनन पदाधिकारी सतीश नायक ने कहा कि कुछ दिन पहले ही छापेमारी की गई थी। अवैध बालू उठाने वालो के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.