पशुओं के भरण-पोषण के लिए 9000 की राशि को बढ़ाकर किया गया 36000 प्रति वर्ष – बादल

राज्य के सभी गौशालाओं को सुदृढ़ एवं मजबूत करने के लिए सरकार कृत संकल्पित
राज्य के सभी गौशालाओं को सुदृढ़ एवं मजबूत करने के लिए सरकार कृत संकल्पित

रांची । हमारी सरकार राज्य के सभी गौशालाओं को सुदृढ़ एवं मजबूत करने के लिए कृत संकल्पित है यही वजह है कि हमने पूर्व में दिए जाने वाले पशुओं के भरण-पोषण के लिए अनुदान के रूप में अधिकतम 9000 की राशि को बढ़ाकर अधिकतम 36000 प्रति वर्ष कर दिया है। यह बातें कृषि पशुपालन एवं सहकारिता मंत्री बादल पत्रलेख ने रांची गौशाला में आयोजित एक कार्यक्रम में कहीं।

राज्य के 10 गौशाला को जल्द ही दिए जाएंगे रेस्क्यू वाहन

उन्होंने कहा की राज्य के 10 गौशाला को जल्द ही रेस्क्यू वाहन दिए जाएंगे। जिससे दुर्घटना में घायल पशुओं को उचित इलाज हेतु अस्पताल जल्द से जल्द भेजा जा सकेगा । बादल पत्रलेख ने रांची गौशाला में गाय के रखरखाव सहित अन्य समस्याओं की जानकारी ली। श्री बादल ने कहा कि राज्य के सभी गौशाओं की समस्याओं की जानकारी लेने के लिये जल्द ही राज्य के सभी गौशालाओं के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक करुँगा।

राज्य के सभी गौशाला के बकाया राशि का किया जा रहा भुगतान

बादल पत्रलेख ने कहा कि सरकार प्रमंडलीय स्तर पर गौ मुक्तिधाम बनाने जा रही है । उन्होंने कहा कि राज्य के सभी गौशाला के बकाया राशि का भी भुगतान किया जा रहा है.उन्होंने कहा कि रांची गौशाला को भी 927000 की राशि भुगतान कर दिया गया है ।

कार्यक्रम में निदेशक पशुपालन शशि प्रकाश झा, गौशाला के अध्यक्ष सह सचिव सहित कई गणमान्य लोग भी मौजूद थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *