देश के विकास के लिए नशा मुक्त समाज जरूरी : केंद्रीय मंत्री

सरला बिरला विश्वविद्यालय में नशा मुक्ति पर राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया
सरला बिरला विश्वविद्यालय में नशा मुक्ति पर राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया

रांची : सरला बिरला विश्वविद्यालय के योग एवम प्राकृतिक चिकित्सा विभाग तथा नशा मुक्त समाज अभियान आंदोलन कौशल के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार को शराब की लत और नशीली दवाओं के दुरुपयोग शीर्षक पर राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री कौशल किशोर थे। उन्होंने कहा कि नशा से न सिर्फ व्यक्ति बल्कि समाज को भी नुकसान होता है। इस बुराई को दूर कर हम समाज को एक नई दिशा दे सकते है। नशा मुक्त समाज देश के विकास के लिए काफी जरूरी है। शराब और नशीली दवाओं का सेवन आज समाज और देश के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। इसे निजात पाने के लिए हम सभी को संकल्प लेना होगा। नशा मुक्त समाज अभियान आंदोलन के राष्ट्रीय कार्यक्रम संयोजक श्री अक्षय कांत ने नशा मुक्त समाज बनाने के लिए सभी को शपथ ग्रहण में शामिल होने के लिए प्रेरित किया।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर गोपाल पाठक ने कहा कि नशा मुक्ति जागरूकता के लिए सभी को आगे आने की जरूरत है। इस बुराई को जड़ से मिटाना होगा। नशा मुक्ति के द्वारा ही उन्नत व स्वस्थ समाज की कल्पना की जा सकती है।

विश्वविद्यालय के मुख्य कार्यकारी पदाधिकारी डॉ प्रदीप कुमार वर्मा ने नशा को व्यक्तिगत जीवन के साथ-साथ सामाजिक जीवन के लिए घातक बताया। उन्होंने कहा कि नशा हमारे युवा वर्ग को सबसे अधिक नुकसान पहुँचा रहा है जो कहीं न कहीं देश के विकास से जुड़ा हुआ है।

विश्विद्यालय की नर्सिंग और पब्लिक हेल्थ की डीन डॉ सुबानी बाड़ा ने कहा कि शराब की लत और नशीली दवाओं का दुरुपयोग आज समाज के लिए चिंता का विषय बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.