साहिबगंज में फिर से शुरू हुई गंगा फेरी सेवा, दुर्घटना के बाद हुई थी स्थागित

साहिबगंज: फेरीघाट में एलसीटी दुर्घटनाग्रस्त के बाद बंद की गई साहिबगंज-मनिहारी फेरीसेवा एक बार फिर से शुरू कर दी गई है. शनिवार को विधिवत साहिबगंज घाट पर पूजन के साथ फेरीसेवा प्रारंभ किया गया. जानकारी रहे कि दो सप्ताह पूर्व मालवाहक जहाज के असंतुलित हो जाने से आधे दर्जन पत्थर चिप्स लोड हाइवा ट्रक के साथ कई चालक, खलासी एवं यात्रियों के लापता होने के बाद ये फेरीसेवा बंद कर दी गई थी. हालांकि अब जांच ऑपरेशन सम्पन्न हो जाने के बाद एक बार फिर से इस सेवा को बहाल कर दिया गया है.

जानकारी के तहत टेंडर प्रक्रिया के साथ ही समिति के द्वारा कटिहार जिला प्रशासन को एक वर्ष के लिए डाक की पूरी राशि 8.52 करोड़ और संचालित होने वाले जहाजों के कागजातों को जमा भी करा दिया था, लेकिन कटिहार जिला प्रशासन के द्वारा नए वित्तीय वर्ष 2022- 23 एवं 2023-24 में फेरी सेवा के तहत जहाजों के संचालन के लिए जारी होने वाला परवाना निर्गत नहीं किया. प्रावधान के तहत टेंडर लेने वाली समिति को 31 मार्च 2022 तक में परवाना निर्गत हो जाना चाहिए था, जिससे नए वित्तीय वर्ष में बिना किसी व्यवधान के फेरी सेवा का संचालन हो सके. लेकिन प्रावधानों को दरकिनार कर संचालित फेरीसेवा बीते 24 मार्च 2022 की रात को मालवाहक जहाज दुर्घटनाग्रस्त होने का कारण दर्शाते हुए नए वित्तीय वर्ष में फेरी सेवा के संचालन के लिए परवाना निर्गत नहीं किया गया है. सूत्रों के अनुसार दुर्घटना की जांच रिपोर्ट के बाद ही परवाना निर्गत होने की संभावना है. वहीं कटिहार प्रशासन क्षतिग्रस्त जहाज को जल्द से जल्द पटना के सर्वेयर से जांच करवाने को कटिबद्ध है. वहीं शुक्रवार को नाव यातायात सहयोग समिति साहिबगंज को परवाना सुपूर्द कर फेरीसेवा प्रारंभ करवा दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.