सीतामढ़ी की महिला मुखिया प्रेमी संग फरार, प्रेमी-प्रेमिका दोनों के तीन-तीन बच्चे हैं

 

रेखा देवी की फाइल फोटो
116 वोट से मुखिया का चुनाव जीती थी रेखा देवी (फाइल फोटो)

सीतामढ़ी जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। गांव की महिला मुखिया (मुखियाइन) का अपनी ही पंचायत के एक शादीशुदा युवक पर दिल आ गया। वह तीन बच्चे और पति को छोड़कर उसके साथ फरार हो गई। युवक के भी दो बच्चे हैं। मुखिया पंचायत चुनाव 161 वोट से जीती थी। चुनाव के समय युवक ने प्रचार में मदद की थी। इसी दौरान दोनों करीब आ गए।

मामला जिले के कन्हौली थाना क्षेत्र के खाप खोपराहा पंचायत की है। पंचायत की मुखिया 38 वर्षीय रेखा देवी 9 मार्च घर से भाग गई। मुखिया पति ने काफी तलाश की, लेकिन वह नहीं मिली।मुखिया पति ने बताया कि दिनांक 9 मार्च को सुबह टहलने के दौरान वह गायब हो गई। उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ है।

पंचायत चुनाव के दौरान से ही चल रहा था प्रेम प्रसंग

पति ने पंचायत के ही स्व. युगेश्वर कापड़ के पुत्र राम प्रगाश कापड़, राम प्रगास कापड़ के पुत्र संजय कापड़ और विजय कापड़ को आरोपी बनाया है। उसने कहा कि ये तीनों शादी की नीयत और मुझे बदनाम करने के लिए पत्नी को बहला-फुसला कर ले गए हैं।

गांव से लेकर शहर तक अब यह मामला चर्चा में है। स्थानीय लोगों के अनुसार मुखिया रेखा देवी का संजय कापड़ (35) से पंचायत चुनाव के दौरान से ही प्रेम-प्रसंग चल रहा था। चुनाव के दौरान रेखा देवी के पक्ष में संजय भी वोट मांग रहे थे।

मुखिया का 21 साल का है बड़ा बेटा

लोगों का कहना है कि वह इतनी उम्र के बाद भी प्रेमी संग फरार हो गई। बच्चा भी बड़ा है और बच्चो की शादी के जगह अपनी शादी रचाने के लिए फरार हो गई।

महिला मुखिया के दो पुत्र और एक पुत्री हैं। सबसे बड़ा पुत्र 21 वर्ष का हैं, जो पटना में रहकर BSC का पढ़ाई कर रहा हैं। दूसरी पुत्री हैं जो मैट्रिक कर रही है। तीसरा बेटा नौवीं कक्षा का छात्र है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.