दुमकाः बैंक अधिकारी बनकर ठगी करने वाले 3 शातिर गिरफ्तार

आरोपी प्रतिदिन 5 लाख रुपये का ट्रांजेक्शन करते थे
आरोपी प्रतिदिन 5 लाख रुपये का ट्रांजेक्शन करते थे

दुमका । दुमका जिले की मसलिया थाना पुलिस ने 3 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस इन आरोपियों के पास से 6 मोबाइल फोन, एक लैपटॉप, 45 सिमकार्ड, कई बैंकों के एटीएम बरामद किए हैं। गिरफ्तार अपराधियों में देवघर के 2 और एक दुमका के जामा का रहने वाला है । गिरफ्तार अपराधियों की पहचान राकेश मंडल, पंकज कुमार और माणिक चंद्र मंडल के रूप में हुई है।

पुलिस को मिली थी गुप्त सूचना
डीएसपी विजय कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि मसलिया थाना क्षेत्र के पर्यटन स्थल गुमरो पहाड़ पर 7 से 8 की संख्या में अपराधी बैंक अधिकारी बनकर लोगों को ठगी का शिकार बनाते हैं। इसके बाद एसपी दुमका के निर्देशानुसार डीएसपी साइबर शिवेंद्र कुमार के नेतृत्व में एक टीम गठित कर मसलिया पुलिस के सहयोग से छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान पुलिस को देखकर अपराधियों ने भागने के प्रयास किया लेकिन उन्हें मौके से दबोच लिया गया।

बना रखा था पूरा सिस्टम
विजय कुमार के मुताबिक ये शातिर आपराधी 7 से 8 की संख्या ग्रुप बनाकर लोगों को ठगी का शिकार बनाते थे। कम्प्यूटर ऑपरेट करने वाले युवक को 35 हजार और लोगों से बात करने वाले व्यक्ति को 25-25 हजार रुपये प्रति व्यक्ति मेहनताना के रुप में दिया जाता था। डीएसपी ने ये भी बताया कि ये आरोपी प्रतिदिन 5 लाख रुपये का ट्रांजेक्शन करते थे, जिसमें से ग्रुप संचालक देवघर निवासी मनोज मंडल खर्च निकालकर अन्य सदस्यों को भुगतान करता था । मनोज मंडल गिरफ्तार राकेश मंडल का रिश्ते में बहनोई लगता है। उन्होंने कहा कि जल्द ही अन्य लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

लोगों से की ये अपील
डीएसपी ने लोगों से अपील करते हुए ये भी कहा कि किसी प्रकार के एप डाउनलोड किसी के कहने पर कभी ना करें। फोन पर किसी प्रकार की जानकारी शेयर ना करे। इस तरह से कोई फोन करे तो लिखित शिकायत पुलिस को करें, ताकि साइबर अपराध को रोका जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Verified by MonsterInsights