बिना दोनों पक्षों की राय जाने मीडिया ना चलाए भ्रामक खबर- महाधिवक्ता

तथ्यों को छुपाकर भ्रामक खबरें प्लांट कर रहा याचिकाकर्ता
तथ्यों को छुपाकर भ्रामक खबरें प्लांट कर रहा याचिकाकर्ता

रांची । सोरेन परिवार से जुड़े आय से अधिक संपत्ति के मामले में झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान हाइकोर्ट ने कहा कि इस मामले से जुड़े सभी पक्षों को अपने-अपने पक्ष पूरे कागजात के साथ रखने को कहा। हाईकोर्ट में सुनाई के बाद देर शाम सरकार का पक्ष रखते हुए महाधिवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि दीवान इन्द्रनील सिन्हा की पीआईएल 4218/ 2013 की रीट याचिका के दस्तावेज को शिव शंकर शर्मा ने अपनी याचिका में संलग्न किया है । महाधिवक्ता ने कहा कि ईडी पहले से ही पार्टी है ।  ईडी को रिपोर्ट नहीं करने का कोई आदेश है । दीवान इन्द्रनील सिन्हा की याचिका को तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश आर भानुमती और जस्टिस डीएन पटेल की पीठ ने डिसपोज करते हुए 50 हजार का कोस्ट लगाया था ।

याचिकाकर्ता की ओर से तथ्यों को छुपाया गया- महाधिवक्ता

महाधिवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि आज जो मामले की सुनवाई हुई, उसमें इन तथ्यों को छिपाया गया और गलत न्यूज फ्लांट किया है । कोर्ट ने दीवान इन्द्रनील सिन्हा के न्याय आदेश को रिकॉर्ड में लाने का आदेश दिया है । दीवान इन्द्रनील सिन्हा के मामले में कोर्ट ने यह भी कहा था कि याचिका के दस्तावेज़ गलत थे । दोनों मामले में याचिकाकर्ता के वकील राजीव कुमार ही थे । महाधिवक्ता ने कहा कि मामला आय से अधिक संपति का नहीं बल्कि शेल कंपनी से जुड़ा है । इतना ही नहीं ROC से कंपनियों की जानकारी मांगी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.