उदयपुर में होगा काँग्रेस का चिंतन शिविर, देश से 400 काँग्रेस नेता होंगे शामिल

नई दिल्ली: चुनावी रणनीतिकार और I-PAC प्रमुख प्रशांत किशोर और कांग्रेस नेतृत्व के बीच तीन दौर की बैठक हुई है. इस बैठक में एक पैनल की एक रिपोर्ट पर भी चर्चा हुई, जिसमें सुझावों और रोडमैप का विश्लेषण किया. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक ‘एम्पावर्ड एक्शन ग्रुप’ का गठन करने का फैसला किया है जो मुख्य रूप से आगामी राजनीतिक चुनौतियों से निपटने का काम करेगा.

इसके साथ ही प्रशांत किशोर को पार्टी में शामिल करने को लेकर भी काँग्रेस आलाकमान में चर्चाओं का दौर जारी है. उन्हें पार्टी में शामिल करने को लेकर अभी कोई स्पष्टता सामने नहीं आई है. काँग्रेस अगले महीने 13 से 15 तारीख तक उदयपुर में चिंतन शिविर आयोजित करने जा रही है. तीन दिवसीय सत्र में देश भर से लगभग 400 कांग्रेस नेता शामिल होंगे.

किशोर ने पिछले कुछ हफ्तों में सोनिया गांधी और अन्य कांग्रेस नेताओं के साथ तीन बैठकें की हैं, और पार्टी के रोडमैप पर एक विस्तृत प्रस्तुति दी है. कांग्रेस अध्यक्ष ने पी चिदंबरम, अंबिका सोनी, प्रियंका गांधी वाड्रा, दिग्विजय सिंह, जयराम रमेश, मुकुल वासनिक, केसी वेणुगोपाल और रणदीप सिंह सुरजेवाला को किशोर द्वारा दिए गए सुझावों पर गौर करने को कहा था. समिति ने 21 अप्रैल को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी, जिसके बाद पार्टी ने घोषणा की थी कि आगे की कार्रवाई पर 72 घंटे में फैसला लिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.