Business Idea: एक बार 40 हजार रुपये लगाइये, हर महीने 50 हजार की कमाई.. घर से चलेगा बिजनेस – Aaj Tak

Feedback
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) खिलौनों के मामले में भारत को आत्मनिर्भर बनाने पर खूब जोर दे रहे हैं. इसके लिए खिलौना इंडस्ट्री को सरकार की ओर से बढ़ावा मिल रहा है. दरअसल भारत के खिलौना बाजार पर चीन का भारी दबदबा है. मोदी सरकार न सिर्फ इस दबदबे को कम करना चाहती है, बल्कि अमेरिका और यूरोप के बच्चों के हाथों में भी भारतीय खिलौने पहुंचाकर निर्यात से देश को कमाई कराना चाह रही है. सरकार के प्रयासों को सफलता भी मिल रही है. यह एक ऐसी इंडस्ट्री है, जिसमें बेतहाशा डिमांड है और ये कभी कम नहीं होने वाली. ऐसे में आप भी इस सेक्टर में उतरकर न सिर्फ मोटी कमाई वाला शानदार बिजनेस शुरू कर सकते हैं, बल्कि देश को आत्मनिर्भर बनाने में भी योगदान दे सकते हैं. आज हम आपको बताने वाले हैं कि कैसे बेहद कम लागत में टॉय इंडस्ट्री में उतरा जा सकता है और आराम से कइयों नौकरी वालों से ज्यादा पैसे कमाए जा सकते हैं…
छोटे स्केल पर शुरू करना होशियारी
कोई भी बिजनेस पहले दिन से विशाल नहीं बन जाता है. एक ही बार में दर्जनों कामगारों के साथ फैक्ट्री शुरू करने का इंतजार करना होशियारी नहीं है. अगर सही से रिसर्च किया जाए, मार्केट को समझा जाए तो कम निवेश में ही कई बिजनेस शुरू किए जा सकते हैं. सॉफ्ट टॉयज और टेडीज बनाने का बिजनेस ऐसा ही है. यह बिजनेस अकेले दम पर भी शुरू किया जा सकता है. इसमें लाखों-करोड़ों लगाने की जरूरत भी नहीं पड़ती है. इसे 35-40 हजार रुपये लगाकर छोटे स्केल पर शुरू किया जा सकता है, जो आपको हर महीने तकरीबन 50 हजार की कमाई सुनिश्चित करा सकता है.
बड़े स्केल के लिए इतने तामझाम
सॉफ्ट टॉयल और टेडीज मैन्यूफैक्चरिंग का बिजनेस दो प्रकार का है. एक प्रकार ऐसा, जिसमें डिजाइन, सिलाई, कटाई, मॉडलिंग, रूई की तैयारी, टैगिंग, पैकिंग तक सब एक ही जगह किया जाता हो. यह खर्चीला है और इसके लिए लाखों निवेश करने की जरूरत है. यह बिजनेस शुरू करने के लिए आपको प्लांट लगाना होगा. इसके अलावा 10-12 मजदूरों की जरूरत पड़ेगी. दर्जनों मशीन खरीदने होंगे. कई विभागों से क्लियरेंस लेना पड़ेगा. इसके अलावा जीएसटी से लेकर तमाम नियम-कानूनों का पालन भी करना होगा. इस तरह बड़े स्केल पर बिजनेस शुरू करने के लिए 10 लाख रुपये से अधिक रकम की जरूरत शुरुआत में ही पड़ सकती है.
ऐसे कम कर सकते हैं लागत
वहीं दूसरा प्रकार ये है कि आप छोटे स्केल पर सॉफ्ट टॉयज और टेडीज बनाने का बिजनेस शुरू करें. अच्छी बात है कि अभी बाजार में आसानी से कई प्रकार के सॉफ्ट टॉयज और टेडीज के बने-बनाए मॉडल मिल जाते हैं, जिन्हें रेडीमेड स्किन कहा जाता है. इसके अलावा बने-बनाए स्किन में भरने के लिए प्लास्टिक फाइबर कॉटन और साज-सज्जा के लिए आंखों वाले बटन व रिबन आदि भी बाजार में आसानी से मिल जाते हैं. इस मामले में बहुत ज्यादा मशीनों की भी जरूरत नहीं होती है. इस कारण लागत काफी कम हो जाती है. इसके लिए मजदूर रखने की भी जरूरत नहीं पड़ती है.
मोटी कमाई की गारंटी वाला बिजनेस
इस बिजनेस में निवेश की बात करें तो आपको मुख्य तौर पर दो मशीनें खरीदने में और रॉ मटीरियल्स लेने के लिए खर्च करने होंगे. छोटे स्केल पर सॉफ्ट टॉयज और टेडीज बनाने के लिए आपको हैंड ऑपरेटेड क्लॉथ कटिंग मशीन और स्टिचिंग मशीन की जरूरत होगी. हैंड ऑपरेटेड क्लॉथ कटिंग मशीन की कीमत 3,500-4,000 रुपये से शुरू हो जाती है. वहीं उषा और सिंगर जैसे बड़े ब्रांड की स्टिचिंग कम सिलाई मशीनें 9-10 हजार रुपये में मिलने लगती हैं. 5-7 हजार रुपये का खर्च कुछ अन्य सामानों को खरीदने में आएगा. शुरुआत में आप 15 हजार रुपये के रॉ मटीरियल्स से आराम से 100 यूनिट सॉफ्ट टॉयज और टेडीज बना सकते हैं. इस तरह देखें तो आपको यह बिजनेस शुरू करने के लिए करीबन 35 हजार रुपये की जरूरत होगी. एक सॉफ्ट टॉय या टेडी को बाजार में आसानी से 500-600 रुपये का रेट मिल जाता है. यानी आप 35-40 हजार रुपये लगाकर एक ही महीने में 50-60 हजार रुपये कमा सकते हैं.
 
Copyright © 2022 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today
Add Aaj Tak to Home Screen
होम
वीडियो
लाइव टीवी
न्यूज़ रील
मेन्यू
मेन्यू

source
– (Ujjwal Duniya)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Verified by MonsterInsights