बोकारोः नागरिक सुविधा के नाम पर जमीन के बंदरबांट से खफा हैं इस्पात मंत्री

बोकारो स्टील प्लांट की जमीन पर है व्यवसाईक कब्जा, विस्थापितों को नहीं मिला अधिकार
केन्द्रीय इस्पात मंत्री आरसीपी सिंह बोकारो स्टील प्लांट की जमीन के बंदरबांट से नाराज

बोकारो । बोकारो स्टील प्रबंधन द्वारा नागरिक सुविधा के नाम पर जमीन की की गई बंदरबांट से इस्पात मंत्री खफा हैं तथा निकट भविष्य में इस्पात मंत्री बड़ा निर्णय ले सकते हैं ।

मिली जानकारी के अनुसार रविवार को पटना में संपन्न हुए जदयू की बैठक में राष्ट्रीय महासचिव प्रवीण सिंह ने इस्पात मंत्री को बोकारो स्टील प्रबंधन द्वारा कारखाना निर्माण के लिए ली गई जमीन में से नागरिक सुविधा के नाम पर आवंटित की गई जमीन की विस्तृत जानकारी दी थी।  लोकसभा में भी एक प्रश्न के उत्तर में बोकारो स्टील प्रबंधन द्वारा नागरिक सुविधा के नाम पर आवंटित की गई जमीन की जानकारी दी गई थी । बोकारो स्टील प्रबंधन ने विभिन्न संस्थाओं को ₹1 में शैक्षणिक सामाजिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ-साथ खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए जमीन आवंटित की थी, लेकिन उन जमीनों का व्यवसायिक उपयोग हो रहा है ।

वहीं दूसरी ओर शैक्षिक संस्थान द्वारा बोकारो स्टील परिवार से जुड़े छात्रों को विशेष रियायत नहीं दे रहा है एवं लाभ कमाने का संस्था बनकर रह गया है । मिली जानकारी के अनुसार शैक्षिक संस्थानों ने आवंटित जमीन से अधिक पर कब्जा भी जमा रखा है, लेकिन प्रबंधन द्वारा इस पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई है । वहीं दूसरी ओर बोकारो स्टील प्लांट के निर्माण के लिए जमीन देने वाले विस्थापित आज भी नियोजन पुनर्वास एवं मुआवजा के लिए आंदोलन कर रहे हैं ।

मिली जानकारी के अनुसार इस्पात मंत्री आरसीपी सिंह ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पूरे मामले की जांच का संकेत दिया है कई निजी विद्यालय पर करोड़ों रुपया बकाया है वहीं दूसरी ओर बिजली पानी का भी भुगतान नहीं किया जा रहा है एवं नियमों को ताक पर रखकर स्कूल परिसर में आवासीय भवन तक बना लिया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com