भाजपा के आदित्य साहू और झामुमो की महुआ माजी का निर्विरोध निर्वाचन तय

झारखंड के इतिहास में पहली बार राज्यसभा सदस्यों का निर्विरोध निर्वाचन होगा
झारखंड के इतिहास में पहली बार राज्यसभा सदस्यों का निर्विरोध निर्वाचन होगा

रांची। राज्यसभा चुनाव के लिए मंगलवार को नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गयी। झारखंड में इस बार दो सीटों के लिए सिर्फ दो प्रत्याशियों ने पर्चा दाखिल किया है, जिसके कारण इस बार मतदान की नौबत नहीं आएगी। राज्यसभा की दो सीटों के लिए भारतीय जनता पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी आदित्य साहू और झारखंड मुक्ति मोर्चा की महुआ माजी ने नामांकन दाखिल करने के अंतिम दिन पर्चा भरा। वहीं दोपहर तीन बजे नामांकन दाखिल करने का वक्त समाप्त हो गया। इस तरह से आदित्य साहू और महुआ माजी का निर्विरोध निर्वाचन तय हो गया है।

दो सीटों के लिए दो ही उम्मीदवार, लिहाजा दे दिया जाएगा जीत का सर्टिफिकेट
दो सीटों के लिए दो ही उम्मीदवार, लिहाजा दे दिया जाएगा जीत का सर्टिफिकेट

1 जून को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी और 3 जून को दोपहर तीन बजे तक नामांकन पत्र वापस लिये जा सकेंगे। नामांकन पत्र वापस लेने का अंतिम समय समाप्त हो जाने के बाद भारत निर्वाचन आयोग की ओर से दोनों ही उम्मीदवारों के निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा की जाएगी। चुनाव आयोग से अनुमति मिलने के बाद राज्यसभा के निर्वाची पदाधिकारी सह विधानसभा के प्रभारी सचिव द्वारा दोनों ही निर्विरोध निर्वाचित सदस्यों को प्रमाण पत्र सौंप दिया जाएगा।

राज्यसभा चुनाव में दो सीटों के लिए सिर्फ दो प्रत्याशियों द्वारा नामांकन दाखिल के बाद इस बार मतदान की नौबत नहीं आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.