Asia Cup: पाकिस्तान बोला- डर गया भारत, इसलिए खेलने जा रहा तीसरे देश | Ujjwal Duniya

यह तो तय है कि अगला एशिया कप पाकिस्तान में होगा। एशिया की प्रमुख टीम होने के कारण इंडिया को लेकर बड़ी अपडेट आयी है कि वह एशिया कप में तो भाग लेगा, पाकिस्तान में कोई मैच नहीं खेलेगा। इंडिया फिर अपने मैच कहां पर खेलेगा? भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के बीच इस मुद्दे पर मीटिंग हुई है। मीटिंग के बाद जो खबर आ रही है वह है भारत कोई मैच पाकिस्तान में नहीं, बल्कि किसी तीसरे देश में खेलेगा। हालांकि यह खबर आने के बाद पाकिस्तानी भारत पर तंज कस रहे हैं कि हार के डर से वह तीसरे मुल्क जा रहा है।

बता दें, पिछले साल अक्टूबर में टी20 वर्ल्ड कप 2022 से पहले बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बयान देकर पाकिस्तान में खलबली मचा दी थी कि बीसीसीआई एशिया कप के लिए अपनी टीम पाकिस्तान नहीं भेजेगा।

वनडे वर्ल्ड कप से पहले इसी साल एशिया कप खेला जाना है। इस बार यह टूर्नामेंट वनडे फॉर्मेट में ही खेला जाएगा। यह टूर्नामेंट 2022 में ही श्रीलंका में खेला जाना था, लेकिन श्रीलंका के आर्थिक हालात बिगड़ने के बाद इसे यूएई स्थानांतरित कर दिया गया था तब यह टूर्नामेंट टी20 फॉर्मेट में खेला गया था।

तीसरा देश कौन, अभी तय नहीं

दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड की मीटिंग में यह तो तय हो गया है कि भारत किसी तीसरे देश में अपने मैच खेलेगा। लेकिन अभी यह तय नहीं हुआ है कि यह तीसरा देश कौन होगा। अनुमान लगाया जा रहा है कि वह तटस्थ देश यूएई, ओमान, श्रीलंका या फिर इंग्लैंड हो सकता है।

टीम इंडिया पर पाकिस्तान क्यों कस रहा तंज

टीम इंडिया के पाकिस्तान से बाहर किसी दूसरे देश में एशिया कप के मैच खेले जाने की खबरों के बाद पाकिस्तान मीडिया इसको उछाला जा रहा है कि भारत हार के डर से पाकिस्तान आकर नहीं खेलना चाहता है। पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज इमरान नजीर ने इसको लेकर तंज कहा है। इमरान नादिर अली पोडकास्ट पर बात करते हुए कहा, ‘सुरक्षा कोई कारण नहीं है. आप देखिए कि कितनी सारी टीमें पाकिस्तान आई हैं। यहां तक कि ऑस्ट्रेलिया भी यहां का दौरा कर के गई है। यह सब बस बचने की कोशिश है। सचाई यह है कि भारत (पाकिस्तान नहीं आएगा क्योंकि उसे यहां हारने का डर है। सुरक्षा सिर्फ एक बहाना है।

2006 में भारत ने किया था पाकिस्तान दौरा

भारत आखिरी बार 2006 में पाकिस्तान दौरे पर गया था। इस दौरे में उसे  टेस्ट सीरीज में हार मिली थी। जबकि वनडे सीरीज में उसने जीता था। इसके बाद पाकिस्तान 2012-13 में भारत दौरे पर आया। इसके बाद दोनों ही टीमें एक दूसरे के देश में क्रिकेट खेलने नहीं गयीं।

%d bloggers like this: