अपोलो की एग्जीक्यूटिव वाइस चेयरपर्सन प्रीथा रेड्डी को मिलेगा सर जहांगीर गांधी मेडल

23 अप्रैल को एक्सएलआरआइ के 66 वें कन्वोकेशन में इंडस्ट्रियल पीस के लिए मिलेगा सम्मान
23 अप्रैल को एक्सएलआरआइ के 66 वें कन्वोकेशन में इंडस्ट्रियल पीस के लिए मिलेगा सम्मान

जमशेदपुर। निजी क्षेत्र में देश की सबसे पुरानी व प्रतिष्ठित बिजनेस स्कूल एक्सएलआरआइ के 66 वें दीक्षांत समारोह का आयोजन 23 अप्रैल को होगा। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में अपोलो हॉस्पिटल्स एंटरप्राइज लिमिटेड की एक्जीक्यूटिव वाइस चेयरमैन डॉ. प्रीथा रेड्डी शामिल होंगी।

एक्सएलआरआइ से पास आउट होने वाले सभी 497 विद्यार्थियों के बीच वे दीक्षांत भाषण प्रस्तुत करेंगी। साथ ही इस मौके पर उन्हें एक्सएलआरआइ की ओर से वर्ष 2022 का प्रतिष्ठित ‘सर जहांगीर गांधी मेडल फॉर इंडस्ट्रियल एंड सोशल पीस’ से सम्मानित भी किया जायेगा.

इस दौरान टाटा स्टील इंडिया एंड साउथ ईस्ट एशिया के एमडी सह एक्सएलआरआइ के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स टी.वी. नरेंद्रन, एक्सएलआरआइ के डायरेक्टर फादर पॉल फर्नांडीस एसजे, एक्सएलआरआइ के डीन एकेडमिक्स प्रो. डॉ आशीष कुमार पाणी समेत सभी शिक्षक-शिक्षिकाएं व विद्यार्थी मौजूद रहेंगे।

गौरतलब है कि इस बार कोरोना संक्रमण को देखते हुए पिछले दो साल से इसे ऑनलाइन मोड में किया जा रहा था, लेकिन दो साल के बाद अब स्थिति सामान्य होने पर दीक्षांत समारोह का आयोजन एक्सएलआरआइ अॉडिटोरियम में किया जायेगा। इस दौरान एक्सएलआरआइ के कुल 497 विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट प्रदान किया जायेगा।

किस कोर्स के कितने विद्यार्थियों को मिलेगा सर्टिफिकेट
पीजी डिप्लोमा इन बीएम – 176 छात्र, पीजी डिप्लोमा इन एचआरएम- 180 छात्र, 15 महीने के पीजीडीएम (जेनरल प्रोग्राम)- 93 छात्र, फेलो प्रोग्राम इन मैनेजमेंट- 11 छात्र, पीजीडीएम-बीएम प्रोग्राम (इवनिंग)के 2019-2022 बैच- 37 छात्र।

“दीक्षांत समारोह भविष्य की दिशा में एक महत्वपूर्ण और बड़ा कदम है. दुनिया भर में महामारी के दौरान छात्रों की उपलब्धियां एक्सएलआरआइ परिवार, शासी निकाय, संकाय सदस्यों, कर्मचारियों, छात्रों और पूर्व छात्रों के प्रयासों के बिना संभव नहीं होती. ये एक अवसर होता है जब हम संस्थान से विदा हो रहे विद्यार्थियों को उनके मेहनत के लिए सम्मानित करते हैं.”

फादर पॉल फर्नांडीस एसजे, डायरेक्टर, एक्सएलआरआइ

“1949 में स्थापित एक्सएलआरआइ ने लगातार ऐसे बिजनेस लीडर्स को तैयार किया जो बड़ी पदों पर जाने के बावजूद उच्च व्यक्तिगत मूल्यों व सामाजिक सरोकार को बनाये रखते हैं।।एक्सएलआरआइ ने हमेशा अपने छात्रों को नैतिक आचरण अपनाने, मूल्य-संचालित संस्कृति का पालन करने के साथ ही अपने छात्रों के एक अभिन्न चरित्र निर्माण को सर्वाधिक महत्व दिया है, और यही एक्सएलआरआइ को देश के अन्य बी-स्कूलों से अलग करता है.

” टीवी नरेंद्रन, एमडी, टाटा स्टील इंडिया एंड साउथ ईस्ट एशिया।

कौन हैं डॉ प्रीथा रेड्डी और क्यों मिल रहा है ये सम्मान
डॉ. प्रीथा रेड्डी को व्यापक रूप से लाखों लोगों के लिए उच्च गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा को सुलभ बनाने में उनके योगदान और भारत की बेहतरी के लिए काम करने वाली विभिन्न संस्थाओं और उद्योग निकायों को उनके समर्थन के लिए जाना जाता है। वे क्लिनिकल परिणामों को लगातार बढ़ाने के लिए समकालीन प्रोटोकॉल शुरू करने में संगठन के 11,000 चिकित्सकों के साथ मिलकर काम करती है।।वह रोगी संतुष्टि में उच्चतम मानकों को प्राप्त करने के लिए गुणवत्ता सुधार प्रक्रियाओं पर बल देती हैं।

वे अपोलो हॉस्पिटल्स एजुकेशनल ट्रस्ट की मैनेजिंग ट्रस्टी हैं, जो समूह के शैक्षिक प्रयासों को संचालित करने वाली एक प्रमुख संस्था है. डॉ. प्रीता रेड्डी को इकोनॉमिक टाइम्स बिजनेस वुमन ऑफ द ईयर पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें उनकी दूरदर्शी दृष्टि, अनुकरणीय कार्य और स्वास्थ्य सेवा और सामाजिक विज्ञान के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए फिक्की द्वारा ‘हेल्थकेयर पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर अवार्ड’ से भी सम्मानित किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.