किसानों के बाद अब आदिवासी केन्द्र सरकार के निशाने पर: झामुमो

धूर्त और चालाक हैं भाजपा वाले, उनपर भरोसा मत करना: सुप्रियो भट्टाचार्य
धूर्त और चालाक हैं भाजपा वाले, उनपर भरोसा मत करना: सुप्रियो भट्टाचार्य

रांची।  आजाद भारत के सबसे लंबे आंदोलन और करीब 700 लोगों की शहादत के बाद आखिरकार केंद्र की तानाशाह सरकार झुक गई । लेकिन अब देश को मोदी-शाह पर भरोसा नहीं रहा। देश का आम मजदूर,  किसान,  आदिवासी,  दलित और मुसलमान मोदी-शाह से नफरत करता है। मोदी-शाह की उलटी गिनती शुरू हो गई है । ये बातें झारखंड मुक्ति मोर्चा के केन्द्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने राजधानी रांची में प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान कही ।

किसानों को धूर्त भाजपा पर भरोसा नहीं 

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी भले ही किसानों से हाथ जोड़कर माफी मांग रहे हैं,  लेकिन संयुक्त किसान मोर्चा को धूर्त और तिकड़मी भाजपा पर भरोसा नहीं।  पता नहीं ये शातिर लोग कब अपनी बातों से पलठ जाएं?  इसलिए किसानों ने फैसला किया है कि इन दुष्टों से देश को मुक्ति दिलाना ही एकमात्र विकल्प है।

किसानों के बाद आदिवासी मोदी-शाह के निशाने पर 

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि देश को हम चेतावनी देना चाहते हैं कि ये कोई मोदी-शाह का हृदय परिवर्तन नहीं है।  वे बस चुनाव हारने के डर से अपने कदम पीछे खींच रहे हैं।  फरवरी के बाद जब राज्यों के विधानसभा चुनाव खत्म हो जाएंगे, तब केंद्र सरकार कृषि कानूनों से भी ज्यादा खतरनाक और कॉर्पोरेट परस्त नीति लेकर आएगी। केंद्र की मोदी सरकार फॉरेस्ट कानूनों में बदलाव कर आदिवासियों को जंगलों से बाहर फेंकना चाहती है। जंगलों को कॉर्पोरेट के हवाले करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है।

धूर्तता और चालाकी ही भाजपा की एकमात्र पूंजी 

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि जितनी धूर्तता भाजपा में है, उतनी आजतक किसी राजनीतिक दल ने नहीं दिखाई। गुजरात में एक मुर्गे का पंख भी टूटता है तो अमित शाह का दिल दुखता है, लेकिन 700 किसान मरने पर उन्होंने शोक और सांत्वना के एक शब्द तक नहीं कहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com