कथित हॉर्स ट्रेडिंग मामले में अनुराग गुप्ता को क्लीन चिट

विभागीय जांच के आधार पर अब सरकार करेगी फैसला
विभागीय जांच के आधार पर अब सरकार करेगी फैसला

रांची।  राज्यसभा चुनाव 2016 के कथित हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों पर एडीजी अनुराग गुप्ता को विभागीय कार्रवाई में मिली क्लीन चिट,डीजी एमबी राव ने रिटायरमेंट से पहले ठोस साक्ष्य के अभाव में एडीजी अनुराग गुप्ता को क्लिन चिट देते हुए राज्य सरकार को अंतिम रिपोर्ट सौंप दी है ।

विभागीय कार्रवाई संचालन पदाधिकारी डीजी एमवी राव ने सेवानिवृत्ति से पूर्व सरकार को रिपोर्ट सौंपी है। एडीजी अनुराग गुप्ता के खिलाफ ठोस साक्ष्य नहीं मिले। अब डीजी की रिपोर्ट की समीक्षा के बाद राज्य सरकार अंतिम निर्णय लेगी।

अदालत में इस मामले पर सुनवाई जारी है। एडीजी अनुराग गुप्ता पर राज्यसभा चुनाव 2016 में बड़कागांव की तत्कालीन कांग्रेस विधायक निर्मला देवी को पांच करोड़ रुपये का प्रलोभन देने तथा निर्मला देवी के पति पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को धमकी देकर भाजपा के पक्ष में वोट डालने के लिए दबाव बनाने का आरोप है। इस आरोप में राज्य सरकार ने 14 फरवरी 2020 को उन्हें निलंबित कर दिया था। तब वे सीआइडी के एडीजी थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com