10 लाख के ईनामी नक्सली महाराज प्रमाणिक ने किया सरेंडर

119 नक्सली वारदातों में शामिल था महाराज प्रमाणिक
119 नक्सली वारदातों में शामिल था महाराज प्रमाणिक

झारखण्ड सरकार की आत्मसमर्पण नीति से प्रभावित होकर 10 लाख के इनामी नक्सली महाराज प्रामाणिक ने आत्मसमर्पण कर दिया। महाराज अपने साथ एके- 47 ,150 कारतूस और 2 वायरलेस सेट के साथ आज झारखण्ड पुलिस के समक्ष औपचारिक रूप से आत्मसमर्पण क़िया।

119 वारदातों में वांक्षित और दक्षिणी छोटानागपुर जोनल कमेटी का कमांडर महाराज प्रमाणिक ने शुक्रवार को झारखण्ड पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया। महाराज प्रमाणिक ने आईजी अभियान अमोल विणुकान्त होमकर, आईजी राँची पंकज कंबोज सहित अन्य वरीय अधिकारियों के समक्ष आत्मसमर्पण क़िया।

वही आत्मसमर्पण के बाद नक्सली महाराज प्रमाणिक ने कहा कि नक्सली बहला फुसला कर नक्सली दस्ते में शामिल करते है और वो भी झूठे सब्जबाग के चलते ही वो भी नक्सलियों के दस्ते में शामिल हुआ वही उसने कहा कि वर्तमान ने नक्सली अपनी मूल धारणा को भूल चुके है।

महाराज प्रमाणिक के आत्मसमर्पण के दौरान आईजी अभियान ने कहा कि ये सरेंडर पतिराम मांझी के दस्ते के लिए बड़ा झटका है। जिसकी गवाही महाराज पर 119 कांड विभिन्न थानों में दर्ज मामले देते हैं। वही उन्होंने बताया कि महाराज ने कई इनपुट दिए है जिसपर पुलिस काम कर रही है और जल्द ही और सफलता भी हाँथ लगेगी। वही उन्होंने सरकार के आत्मसमर्पण नीति में हुए बदलाव को बेहतर कदम बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.