अवैध बालू उठाव को लेकर छापेमारी करने गई टीम पर ग्रामीणों ने हमला बोला

अवैध खनन को लेकर जिला प्रशासन सख्त है कार्रवाई से मना हड़कप

गिरिडीह अमित सहाय

अवैध खनन को लेकर जिला प्रशासन सख्त है कार्रवाई से हड़कप मचा है। देखना यह होगा कि यह शक्ति चंद दिनों के लिए है या बदस्तूर जारी रहेगी। बुधवार को गावां थाना क्षेत्र के सेरुआ में अवैध बालू उठाव को लेकर छापेमारी करने गई टीम पर ग्रामीणों ने हमला बोला दिया। इस दौरान कई पुलिस कर्मियों घायल होने की सूचना मिली हैं। इस मामले में पांच ग्रामीणों को भी हिरासत में लिया है। 3 बालू लोड एवं एक खाली ट्रैक्टर को जब्त कर थाना लाया गया। वहीं टीम अन्य नदी घाटों पर भी छापामारी कर रहे है जिसे अवैध बालू कारोबारियों मे हड़कम्प मच गया है।

जिला खनन पदाधिकारी सतीश नायक एवं एएसपी हारिश-बिन-जमां ते नेतृत्व में अवैध बालू उठाव को खिलाफ पुलिस की स्पेशल टीम ने छापामारी सेरूआ बेन्ड्रो नदी घाट पर छापामारी किया। जब्त ट्रैक्टरो को लेकर वापस लेने के दरम्यान ग्रामीणों ने टीम को घेर छोड़ने का दबाव बनाया ट्रैक्टर नहीं छोड़ते देख ग्रामीणो ने पथराव कर दिया।ग्रामीणों के हामला से कई पुलिस कर्मियों घायल हो गए।

विदित हो कि जिला खनन पदाधिकारी के नेतृत्व में एएसपी, धनवार एसडीपीओ मुकेश महतो और सदर एसडीपीओ अनिल सिंह ने मंगलवार को एक साथ 30 से अधिक क्रेशर मिलों पर छापामारी कर ध्वस्त किया। धनवार के खिजरसोता और दुसरे कई गांवो में 30 से अधिक क्रेशर मिलों को ध्वस्त किया। इस दौरान पांच संचालको को भी गिरफ्तार की गई।
जिला खनन पदाधिकारी सतीश नायक के अनुसार खिजरसोता समेत दुसरे गांवों के सारे क्रेशर अवैध तरीके संचालित पाया गया। सभी क्रेशर मीलों के संचालको के खिलाफ डीएमओ ने एक माह पूर्व प्राथमिकी दर्ज कराया था। जिसके बाद भी क्रेशर संचालित पाया गया था। छापामारी के दौरान बालू लोड 10 ट्रैक्टर को जब्त किया गया. जमुआ में बालू लोड 4 ट्रैक्टर, नगर थाना, गांडेय और हीरोडीह में 3-3 ट्रैक्टर को जब्त किया गया। मामले में एएसपी ने कहा कि पथराव की घटना के बाद स्थिति नियंत्रण में है अनुसंधान जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.